खुद से लड़ाई - एक शायरी | Fight With Self - A Shayeri

खुद से लड़ाई


खुद से लड़ाई - एक शायरी | Fight With Self - A Shayeri


पापियों के चेहरे से धिन आता है मुझे

 पर चेहरा मुझे देखनाहि है,

पापियों के चेहरे से धिन आता है मुझे

 पर चेहरा मुझे देखनाहि है,

 आज सहना है मुझे हर दर्द, उस दिन के लिए

  जब मिलेगा मुझे वह खुशी, जो मुझे चाहिए


परिये अगले शायरी

परिये पिछले शायरी

Comments

Popular posts from this blog

অভিভাবক - একটি কবিতা। Guardian - A Poem

Out Of Cocoon - A Short Story

ফেয়ারওয়েল কবিতা। Farewell - A Poem

বেতন - একটি কবিতা। Salary - A Poem

মা বোল্লাকালী - একটি কবিতা। Ma Bollakali - A Poem.

Patience Lost - A Short Story

মহরম - একটি কবিতা। Muharram - A Poem